स्वतंत्रता सेनानियों के प्रसिद्द नारे

स्वराज मेरा जन्म सिद्ध अधिकार है, और मैं इसे लेकर रहूँगा  –  बाल गंगाधर तिलक तिलक द्वारा प्रचलित किया गया यह नारा उनके साथी Joseph “Kaka” Baptista द्वारा 1898 के आस-पास बनाया गया था. यह भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के सबसे Read More …

ब्रह्माकुमारी शिवानी के अनमोल विचार

बदलाव की तरफ पहला कदम स्वीकार करना है। एक बार आप खुद को स्वीकार कर लेते हैं आप बदलाव के दरवाजे खोल देते हैं। आपको बस यही करना है। बदलाव कुछ ऐसा नही है जिसे आप करते हैं, ये कुछ Read More …

तरुण सागर जी के अनमोल वचन, सुविचार व कडवे प्रवचन

भले ही लड़ लेना झगड़ लेना पिट जाना पीट देना मगर बोलचाल बंद मत करना क्यूंकि बोलचाल के बंद होते ही सुलह के सारे दरवाजे बंद हो जाते हैं कभी तुम्हारे माँ- बाप तुम्हे डांट दें तो बुरा मत मानना, Read More …